Home उत्तर प्रदेश फर्रुखाबाद: चीनी मिल द्वारा किसानों को किया गया 7 करोड़ 61 लाख 50 हजार रुपये बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान

फर्रुखाबाद: चीनी मिल द्वारा किसानों को किया गया 7 करोड़ 61 लाख 50 हजार रुपये बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान

33 second read
Comments Off on फर्रुखाबाद: चीनी मिल द्वारा किसानों को किया गया 7 करोड़ 61 लाख 50 हजार रुपये बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान
0
39

{ सतीश की रिपोर्ट }

कोविड-19 लाॅक डाउन के दौरान फर्रुखाबाद जनपद के दि किसान सहकारी चीनी मिल्स लिमिटेड कायमगंज द्वारा किसानों के बकाया गन्ना मूल्य में से 7 करोड़ 61 लाख 50 हजार रुपये गन्ना मूल्य का भुगतान कर दिए जाने से संबंधित किसान काफी राहत महसूस कर रहे हैं।

चीनी मिल द्वारा कोरोना महामारी के समय लगभग 4हजार किसानों को किया गया बकाया गन्ना मूल्य का 7 करोड़ 61 लाख 50 हजार रुपये भुगतान किसानों के लिए एक वरदान साबित हो रहा है।

किसान सहकारी चीनी मिल्स लिमिटेड कायमगंज द्वारा पेराई सत्र के 2019-20 के दौरान 14 नवम्बर से 6 अप्रैल 2020 तक चीनी मिल द्वारा किए गन्ना पेराई के दौरान 49 करोड़ 4 लाख 42 हजार रुपये का 15 लाख 44 हजार कुण्टल किसानों का गन्ना खरीद कर पेराई कर 1लाख 54 हजार 460 कुण्टल चीनी का उत्पादन किया गया है।

वर्तमान पेराई सत्र 2019-20 के दौरान किसानों से खरीदे गए 49 करोड़ 4 लाख 42 हजार रुपये गन्ना मूल्य में से 22 करोड़ 24 लाख 17 हजार रुपये गन्ना मूल्य का भुगतान किसानों को किया जा चुका था।

वहीं कोरोना लाॅक डाउन के दौरान किसानों को राहत पहुंचाने हेतु चीनी मिल के प्रधान प्रबन्धक दिलीप कुमार सक्सेना व मुख्य लेखाकार मेवालाल पासी द्वारा विशेष प्रयास कर 7 करोड़ 61लाख 50 हजार रुपये बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान 8 मई को संबंधित किसानों के बैंक खातों में भेज दिया गया है।

इसके साथ ही साथ गत पेराई सत्र 2018-19 का बकाया गन्ना मूल्य 2 करोड़ 3 लाख 32 हजार रुपये का भी भुगतान चीनी मिल द्वारा किसानों का कर दिया गया है।

चीनी मिल के प्रधान प्रबन्धक दिलीप कुमार सक्सेना व मुख्य लेखाकार मेवालाल पासी ने बताया कि वर्तमान पेराई सत्र के दौरान चीनी मिल द्वारा खरीदे गए 49 करोड़ 4 लाख 42 हजार रुपये गन्ना मूल्य में से अभी तक चीनी मिल द्वारा अपने निजी संसाधनों से कुल 29 करोड़ 85 लाख 67 हजार रुपये 60.88 प्रतिशत गन्ना मूल्य का भुगतान किसानों को कर दिया गया है।

गत पेराई सत्र के बकाया गन्ना मूल्य के भुगतान सहित वर्तमान पेराई सत्र के दौरान चीनी मिल द्वारा अपने निजी संसाधनों से कुल 31 करोड़ 89 लाख रुपये गन्ना मूल्य का भुगतान किसानों को कर दिया गया है।

बाकी बचे बकाया गन्ना मूल्य का शीघ्र ही भुगतान करने हेतु विशेष प्रयास किए जा रहे हैं।

चीनी मिल द्वारा पेराई सत्र 2020-21 के लिए कराये जा रहे गन्ना सर्वे कार्य को शुद्धता एवं सही से कराने हेतु चीनी मिल के प्रधान प्रबन्धक दिलीप कुमार सक्सेना ने किसानों से अनुरोध करते हुए कहा कि गन्ना सर्वे की सूचना एसएमएस से किसानों को भेजी जा रही है।

सर्वे के समय आवश्यक कागजों के साथ किसान अपने खेत पर मौजूद रहकर पर्यवेक्षक से गन्ना का सही सही सर्वे कराये ।

सर्वे का सम्पूर्ण डाटा उद्यम संसाधन योजना ई आर पी सिस्टम पर अपलोड कर दिया जाएगा। जिसमें मिल स्तर से कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।

प्रधान प्रबन्धक दिलीप कुमार सक्सेना ने बताया कि विगत 1 मई से चीनी मिल द्वारा प्रारम्भ किया गया गन्ना सर्वे कार्य 30 जून तक चलेगा।

गन्ना सर्वे कार्य हेतु गन्ना पर्यवेक्षकों की 11 टीमें बनाई गई है।प्रत्येक टीम के साथ चीनी मिल का एक कर्मचारी भी मौजूद रहेगा। टीमों द्वारा 6000 हेक्टेयर रकवा में से अभी तक 600 हेक्टेयर रकवे का गन्ना सर्वे कार्य किया जा चुका है।

Load More By upkibaat
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

सम्भल में ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ उपचार को भटकता रहा मरीज़, पढ़ें खबर

रिपोर्ट:सतीश सिंह जहां पूरा देश भयंकर महामारी कोरोना से जूझ रहा है वही संभल जिले से हैरान …