Home उत्तर प्रदेश फर्रुखाबाद: ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने नगरपालिका सभागार में चिकित्सकों के साथ की बैठक

फर्रुखाबाद: ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने नगरपालिका सभागार में चिकित्सकों के साथ की बैठक

31 second read
Comments Off on फर्रुखाबाद: ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने नगरपालिका सभागार में चिकित्सकों के साथ की बैठक
0
23

{ फर्रुखाबाद से सतीश गुप्ता की रिपोर्ट }

फर्रुखाबाद जनपद के कायमगंज नगर व क्षेत्र को कोरोना वायरस से बचाव हेतु कायमगंज के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने नगरपालिका के सभागार में चिकित्सकों के साथ एक बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान भारी संख्या में मौजूद नगर के चिकित्सकों से ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु विचार विमर्श किया।

बैठक के दौरान ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु सभी चिकित्सकों से अपने अपने क्लीनिक एवं नर्सिंग होम बन्द रखने का अनुरोध करते हुए कहा कि खांसी, जुकाम व बुखार के मरीजों को चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने हेतु नगर के किनारे स्थित लक्ष्मी यदुनन्दन महाविद्यालय कायमगंज में प्रशासन द्वारा एक अस्थायी चिकित्सा केन्द्र स्थापित किया गया है।

उक्त चिकित्सा केन्द्र का 24 मार्च से लक्ष्मी यदुनन्दन महाविद्यालय में विधिवत शुभारम्भ कर दिया जाएगा। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने सभी चिकित्सकों से अनुरोध करते हुए कहा कि प्रशासन द्वारा स्थापित उक्त अस्थाई चिकित्सा केन्द्र पर आप चिकित्सकगण प्रतिदिन बारी-बारी से प्रातः 10 बजे से सायं 4 बजे तक नियमित रूप से अपनी सेवाएं प्रदान कर खांसी,जुकाम व बुखार के मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर चिकित्सीय सुविधा प्रदान करे। जिसके लिए चिकित्सकगण प्रत्येक मरीज से निर्धारित शुल्क ले सकते हैं।

बैठक में मौजूद इण्डियन मेडिकल एशोसियेशन कायमगंज के अध्यक्ष डॉ वी डी शर्मा, सचिव जमालुद्दीन खान,कोषाध्यक्ष डाॅ संदीप अग्रवाल, डाॅ शरद गंगवार, डाॅ प्रतोष अग्रवाल, डाॅ संजेश गंगवार,डाॅ विकास शर्मा, डाॅ संतोष अग्रवाल व डॉ अनिरुद्ध सिंह गंगवार सहित अधिकांश चिकित्सकों द्वारा इस कोरोना वायरस की महामारी की संकट की घड़ी में मरीजों को अपनी निशुल्क चिकित्सा सेवाये प्रदान करने की घोषणा की।

जिस पर बैठक में मौजूद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी, चेयरमैन सुनील चक एवं सभी चिकित्सकों द्वारा आपस में बिचार विमर्श कर सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि उक्त चिकित्सा केन्द्र पर चिकित्सकों द्वारा मरीजों से जो निर्धारित परामर्श शुल्क ली जायेगी। उस शुल्क से दवायें खरीद कर चिकित्सकों द्वारा गरीब व असहाय मरीजों परामर्श के साथ साथ निशुल्क दवायें भी प्रदान की जायेंगी।

बैठक के दौरान आईएमए के कोषाध्यक्ष बाल गोपाल नर्सिंग होम के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ संदीप अग्रवाल, सूर्यानर्सिंग होम के चिकित्सक हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ प्रतोष अग्रवाल व हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ मनीष रस्तोगी द्वारा ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी को अपने अस्पतालों में इमरजेन्सी में भर्ती सच्चो व मरीजों के भर्ती होने की जानकारी दिए जाने पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी वहां पर मौजूद सभी चिकित्सकों की सहमति से उक्त तीनों चिकित्सकों को गम्भीर मरीजों को आकस्मिक चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने हेतु अस्पताल खोलने व उपचार करने की अनुमति प्रदान कर दी है।

बैठक के दौरान सभी चिकित्सकों ने अपने अपने क्लीनिक एवं नर्सिंग होम पूर्ण रूप से बन्द रखकर इस संकट की घड़ी में प्रशासन द्वारा स्थापित किए गए उक्त चिकित्सा केन्द्र पर मरीजों को निशुल्क चिकित्सीय सेवाएं प्रदान करने का भरोसा दिए जाने पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने सभी चिकित्सकों की मुक्त कंठ से सराहना करते हुए कहा कि नगर के सभी निजी नर्सिंग होम व क्लीनिक बन्द रहने से कोरोना वायरस से बचाव हेतु काफी कारगर साबित होंगे।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने नगर व क्षेत्र के झोला छाप डॉक्टरों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर किसी भी झोला छाप डॉक्टर का क्लीनिक खुला पाया गया एवं कहीं पर भी किसी मरीज का झोला छाप डॉक्टर द्वारा इलाज करने की जानकारी मिलती है तो सम्बन्धित झोला छाप डॉक्टर के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने सभी चिकित्सकों से मंगलवार को प्रातः 10 बजे प्रशासन द्वारा लक्ष्मी यदुनन्दन महाविद्यालय में स्थापित चिकित्सा केन्द्र पर पहुंचने का विनम्र अनुरोध करते हुए कहा कि आप सभी सम्मानित चिकित्सकों की मौजूदगी में उक्त चिकित्सा केन्द्र का विधिवत शुभारम्भ कर मरीजों को चिकित्सीय सेवाएँ प्रदान किये जाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

बैठक के दौरान मौजूद चेयरमैन सुनील चक ने विश्वास दिलाते हुए कहा कि उक्त चिकित्सा केन्द्र के व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ साथ जहां पर भी नगरपालिका के सहयोग की आवश्यकता पड़ेगी, नगरपालिका द्वारा पूरा सहयोग किया जाएगा।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी ने समस्त नगर व क्षेत्रवासियों से अपील करते हुए कहा है कि बहुत ही जरूरी चिकित्सा सम्बन्धी समस्या आने पर ही उक्त चिकित्सा केन्द्र पर पहुंच कर स्वास्थ्य परीक्षण कराकर उपचार कराये।

अन्यथा ज्यादा से ज्यादा समय अपने घरों में रहकर स्वयं एवं अपने परिवार को स्वस्थ रखने में सहयोग प्रदान करें। बैठक के दौरान ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित आसेरी,चेयरमैन सुनील चक,आईएमए के अध्यक्ष डॉ वी डी शर्मा, सचिव डाॅ जमीलुद्दीन खान, कोषाध्यक्ष डाॅ संदीप अग्रवाल,डॉ प्रतोष अग्रवाल,डॉ शरद गंगवार,डाॅ संजेश गंगवार,सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के डाॅ शोभित कुमार सिंह सहित नगर के सभी चिकित्सक मौजूद रहे।

Load More By upkibaat
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

बीजेपी सांसद धर्मेन्द्र कश्यप की पत्नी कोरोना संक्रमित, फेसबुक पर पोस्ट कर दी जानकारी

दिल्ली ने बुधवार को COVID-19 के 17,000 से अधिक मामले दर्ज किए, जो देश की सबसे बुरी तरह से …