Home उत्तर प्रदेश डिजिटल लेन-देन में पहली बार उत्तर प्रदेश पूरे देश में नंबर बनकर उभरा- मुख्यमंत्री योगी

डिजिटल लेन-देन में पहली बार उत्तर प्रदेश पूरे देश में नंबर बनकर उभरा- मुख्यमंत्री योगी

2 second read
Comments Off on डिजिटल लेन-देन में पहली बार उत्तर प्रदेश पूरे देश में नंबर बनकर उभरा- मुख्यमंत्री योगी
0
20

डिजिटल लेन-देन में पहली बार उत्तर प्रदेश पूरे देश में नंबर बनकर उभरा- मुख्यमंत्री योगी

कोरोना काल डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के निर्देश उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता से अपील की थी। उन्होंने कहा था कि जमाना तकनीकी का है, काम में तेजी और पारदर्शिता के लिए लोग तकनीक को जानें और इसका उपयोग करें।

तो वहीं, लोग भी कोरोना काल में डिजिटल लेनदेन के लिए यूपीआई यानी यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस का काफी इस्तेमाल कर रह है। बता दें कि प्रदेश में लोगों ने सबसे अधिक 60 करोड़ 31 लाख रुपए का पेमेंट यूपीआई से ही किया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ की अपील और तकनीक पर लगातार जोर दिए जाने का नतीजा अब दिखने लगा है। लोगों का डिजिटल लेनदेन के प्रति क्रेज बढ़ा है। इस बात का सबूत यह है कि डिजिटल लेन-देन में पहली बार उत्तर प्रदेश पूरे देश में नंबर बनकर उभरा है।

बता दें कि पिछले साल के मुकाबले इस साल करीब 126 फीसद अधिक डिजिटल लेन-देन हुआ। प्रदेश में सितंबर तक एक अरब 76 करोड़ 46 लाख रुपए का ट्रांजेक्शन किए जा चुके हैं, जो पिछले वर्ष की समान अवधि में किए गए कुल ट्रांजेक्शन 77 करोड़ 93 लाख रुपए की तुलना में 98 करोड़ 53 लाख अधिक है।

बता दें कि प्रदेश में लोगों ने सबसे अधिक 60 करोड़ 31 लाख रुपए का पेमेंट यूपीआई से किया गया है। इसके बाद 47 करोड़ 79 लाख रुपए का पेमेंट लोगों ने डेबिट कार्ड से किया है। ऐसे ही 20 करोड़ 43 लाख रुपए का ट्रांजेक्शन नेट से किया गया है और अन्य माध्यमों से 16 करोड़ 36 लाख रुपए का ट्रांजेक्शन किया गया है।

इसके अलावा एनईएफटी से 11 करोड़ 47 लाख रुपए का पेमेंट किया गया है। क्रेडिट कार्ड के माध्यम से छह करोड़ 90 लाख, आईएमपीएस से छह करोड़ 61 लाख, आधार से छह करोड़ 59 लाख रुपए का पेमेंट किया गया है।

भारतीय स्टेट बैंक ने सिद्धार्थनगर और फिरोजाबाद जिले को डिजिटल जिले के रूप में चिह्नित किया है। जिसका उद्देश्य जिले में डिजिटल पेमेंट के ईको सिस्टम का विस्तार और सुदृढ़ करते हुए इन दोनों जिलों में एक साल के अंदर पूर्ण रूप से त्वरित और सुविधाजनक तरीके से डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना है।

सिद्धार्थनगर जिले को भारत सरकार द्वारा चयनित आंकक्षात्मक जिलों में से एक है। आरबीआई ने इसके लिए 31 मार्च 2021 की डेड लाइन तय की है।

Load More By RNI Hindi Desk
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

यूपी : धोखाधड़ी के आरोप में मंत्री कपिलदेव अग्रवाल के भाई के खिलाफ लखनऊ में केस दर्ज

यूपी : धोखाधड़ी के आरोप में मंत्री कपिलदेव अग्रवाल के भाई के खिलाफ लखनऊ में केस दर्ज योगी …