Home उत्तर प्रदेश कानपुर: 28 साल बाद पाकिस्‍तान से घर पहुंचे शमसुद्दीन के छलके आंसू

कानपुर: 28 साल बाद पाकिस्‍तान से घर पहुंचे शमसुद्दीन के छलके आंसू

0 second read
Comments Off on कानपुर: 28 साल बाद पाकिस्‍तान से घर पहुंचे शमसुद्दीन के छलके आंसू
0
36

कानपुर का रहने वाला शमसुद्दीन 28 साल बाद पाकिस्तान से वापस अपने घर लौट आया हैं। अपनों के बीच पहुंचकर शमसुद्दीन की आंखें भर आईं। वह अपनों के गले लग कर खूब रोया। वहीं मोहल्ले वालों ने शमसुद्दीन का स्वागत फूलों की माला पहनाकर किया।

शमसुद्दीन का कहना है कि वो 92 में पाकिस्तान गया था. वहां चप्पल बनाने का काम करता था। फिर वहां की पुलिस ने उसे एजेंट समझकर जेल भेज दिया। शमसुद्दनीन ने इस मौके पर कहा कि मेरी दोनों सरकारों से अपील है कि दोनों देशों में निर्दोष लोगों को तंग न किया जाए क्योंकि उनका कोई दोष नहीं होता।

शमसुद्दीन 1992 में गया था पाकिस्तान

बता दें कि परिजनों से विवाद होने पर शमसुद्दीन 1992 में अपने परिचित के पास पाकिस्तान चला गया था। जहां हालात सही न होने की वजह से वह वक्त पर निकल नहीं पाया। जिससे उसके वीजा की अवधि समाप्त हो गई और बाद में उसने अपने परिचित के कहने पर पाकिस्तान की फर्जी नागरिकता ले ली. बाद में पासपोर्ट रिन्यू कराने के दौरान 2012 में उसे पुलिस ने पकड़ लिया। उसे भारतीय जासूस साबित करने के लिए पुलिस ने प्रताड़ना दी. बाद में उसे गलत तरीके से देश में दाखिल होने के आरोप में जेल में डाल दिया गया।

पिछली 26 अक्टूबर को उसे भारतीय फौज के हवाले कर दिया गया था। जहां उसे अमृतसर के क्वारनटीन सेंटर में रखा गया। जिसके बाद क्वारनटीन की अवधि पूरे होने और कागजी औपचारिकता पूरी होने के बाद अमृतसर से कानपुर के लिए रवाना कर दिया गया।

Load More By upkibaat
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

पुलिस ने की ताबड़तोड़ छापेमारी, मौके पर प्रत्याशी के भतीजे को किया गिरफ्तार, 2 पेटी शराब की बरामद

बदायूं से  रिंकू शर्मा की रिपोर्ट त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर थाना पुलिस अभियान चलाकर …