Home उत्तर प्रदेश भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज के एसएसपी सस्पेंड, छह आईपीएस अफसरों का तबादला

भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज के एसएसपी सस्पेंड, छह आईपीएस अफसरों का तबादला

0 second read
Comments Off on भ्रष्टाचार के आरोप में प्रयागराज के एसएसपी सस्पेंड, छह आईपीएस अफसरों का तबादला
0
12

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपराध नियंत्रण एवं कानून-व्यवस्था में शिथिलता और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों में फंसे प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को निलंबित कर दिया है। वह तमिलनाडु काडर के वर्ष 2006 के तमिलनाडु काडर के आईपीएस हैं। वह राज्य प्रतिनियुक्त पर हैं। उनके स्थान पर लखनऊ में तैनात डीसीपी वेस्ट सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को प्रयागराज का नया एसएसपी बनाया गया है। इसी के साथ शासन ने पांच अन्य आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है।

गृह विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि अभिषेक दीक्षित द्वारा एसएसपी प्रयागराज के रूप में तैनाती की अवधि में गंभीरत अनियमितताएं की गईं। उन्होंने शासन के निर्देशों का अनुपालन सही ढंग से नहीं किया। अभिषेक दीक्षित पर पोस्टिंग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के भी आरोप लगे हैं।

शासन और डीजीपी मुख्यालय के निर्देशों के अनुरूप नियमित रूप से फुट पेट्रोलिंग करने और बैंकों तथा आर्थिक व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा एवं बाईकर्स द्वारा की जा रही लूट की घटनाओं की रोकथाम में भी वह नाकाम रहे। इनके द्वारा अपेक्षित कार्यवाही नहीं की गई। चेंकिग व पर्यवेक्षण का काम भी सही ढंग से नहीं किया गया। प्रयागराज में बीते तीन महीने में लम्बित विवेचनाओं में भी निरंतर वृद्धि हुई है।

कोरोना माहामारी के संबंध में भी शासन द्वारा सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के दिए निर्देशों का जनपद में सही ढंग से पालन नहीं कराया गया, जिस पर हाईकोर्ट ने घोर अप्रसन्नता व्यक्त की। निलंबन की अवधि में अभिषेक दीक्षित डीजीपी मुख्यालय से संबद्ध रहेंगे।

देवेश कुमार पाण्डेय लखनऊ में पुलिस उपायुक्त बने
लखनऊ के पुलिस उपायुक्त सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी के स्थान पर देवेश कुमार पाण्डेय को लखनऊ का पुलिस उपायुक्त बनाया गया है। वह एटीसी सुलतानपुर में एएसपी थे।

पुष्पांजलि सिंह डीआईजी रेलवे बनीं
वहीं शासन ने गोरखपुर में तैनात रहीं डीआईजी रेलवे पुष्पांजलि सिंह को लखनऊ रेलवे का डीआईजी बनाया है। उन्नाव के माखी में हुए रेप कांड के मामले में वह विवादों में घिरी थीं। उन्नाव में तैनाती के दौरान उन पर आरोप लगे थे कि उन्होंने पीड़ित महिला द्वारा विधायक पर रेप का आरोप लगाए जाने पर, उसकी शिकायत को नजर अंदाज कर दिया। जांच के बाद सीबीआई ने उनके खिलाफ शासन से कार्रवाई की सिफारिश की है।

सीतापुर की 11वीं वाहिनी पीएसी के डीआईजी / मनोज कुमार पीएसी लखनऊ के नए डीआईजी होंगे। गोरखपुर क्षेत्रीय अभिसूचना इकाई के डीआईजी गंगा नाथ त्रिपाठी भ्रष्टाचार निवारण संगठन लखनऊ, डॉ. अखिलेश कुमार निगम को एसपी विशेष अनुसंधान शाखा सहकारिता लखनऊ की नई तैनाती मिली है। वह सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ में एसपी थे।

ट्रांसफर किए गए अफसरों की लिस्ट

नाम कहां थे कहां गए
सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी पुलिस उपायुक्त, लखनऊ एसएसपी, प्रयागराज
पुष्पांजलि सिंह डीआईजी, रेलवे, गोरखपुर डीआईजी, रेलवे, लखनऊ
देवेश कुमार पाण्डेय एएसपी, सुलतानपुर पुलिस उपायुक्त, लखनऊ
मनोज कुमार डीआईजी, 11वीं वाहिनी पीएसी, सीतापुर डीआईजी, पीएसी लखनऊ
गंगा नाथ त्रिपाठी डीआईजी, क्षेत्रीय अभिसूचना इकाई, गोरखपुर भ्रष्टाचार निवारण संगठन लखनऊ
डॉ. अखिलेश कुमार निगम एसपी, सतर्कता अधिष्ठान लखनऊ एसपी विशेष अनुसंधान शाखा सहकारिता, लखनऊ
Load More By upkibaat
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

पुलिस ने की ताबड़तोड़ छापेमारी, मौके पर प्रत्याशी के भतीजे को किया गिरफ्तार, 2 पेटी शराब की बरामद

बदायूं से  रिंकू शर्मा की रिपोर्ट त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर थाना पुलिस अभियान चलाकर …