Home उत्तर प्रदेश वाराणसी : पीएम के जन्मदिन पर सपा कार्यकर्ताओं ने भीख मांगकर रोजगार की मांग की

वाराणसी : पीएम के जन्मदिन पर सपा कार्यकर्ताओं ने भीख मांगकर रोजगार की मांग की

2 second read
Comments Off on वाराणसी : पीएम के जन्मदिन पर सपा कार्यकर्ताओं ने भीख मांगकर रोजगार की मांग की
0
9

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज जन्मदिन है। 17 सितंबर 1950 में जन्मे पीएम मोदी आज 70 वर्ष के हो गए। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी पूरे देश भर में कई कार्यक्रम आयोजित किया। वहीं, विपक्षी दलों और उनके कार्यकर्ताओें आज राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मना रहे हैं। लाखों में संख्या में युवा सरकार से रोजगार की मांग करते हुए ट्विटर पर अपनी राय व्यक्त कर रहे हैं।

इसी बीच वाराणसी के हरिश्चंद्र घाट पर सपा कार्यकर्ताओं ने भीख मांगकर रोजगार की मांग की। पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं ने अदनंग होकर हाथों में कटोरा लेकर हरिश्चंद्र घाट के रोडू पर घूम-घूम कर भीख मांगा। इसके साथ हीसभी ने गले में तख्तियां लटकाए हुए थी जिन पर लिखा हुआ था ’17 सितंबर राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस, साहब युवा मांगे रोजगार, आई एम मिस्टर बेरोजगार’। उन्होंने सरकार से मांग की आज के दिन को राष्ट्रीय वेरोजगार दिवस घोषित कर दिया जाए।

समाजवादी पार्टी कैंट विधानसभा अध्यक्ष विवेक यादव ने कहा देश की गिरती अर्थव्यवस्था बढ़ती और बेरोजगारी, सरकारी संस्थाओं का निजी करण व नौजवानों की बीच नौकरी की कमी इन सभी मुद्दों पर मोदी सरकार फेल दिखती है। यह सिर्फ और सिर्फ सरकार की दिशाहीन नीतियों जैसे कि रातों-रात नोटबंदी कर देना, बिना किसी नीति के जीएसटी लागू करने का नतीजा है। जिसका भुगतान आज सारे देश की जनता कर रही है।

बेरोजगारी पर राहुल गांधी ने भी किया ट्विट
लाखों में संख्या में युवा सरकार से रोजगार की मांग करते हुए ट्विटर पर अपनी राय व्यक्त कर रहे हैं। इसी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि आखिर यह सरकार रोजगार का सम्मान कब तक देगी? उन्होंने लिखा कि यही कारण है कि देश का युवा आज राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मनाने पर मजबूर है। रोज़गार सम्मान है। सरकार कब तक ये सम्मान देने से पीछे हटेगी? ‘हिन्दुस्तान’ की एक खबर का हवाला देते हुए राहुल ने यह ट्वीट किया।

हिन्दुस्तान कि खबर में दावा किया गया था कि देश में नौकरी मांगने वालों की संख्या करोड़ों में है जबकि सिर्फ 1.77 लाख नौकरियां ही उपलब्ध हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है नौकरी मांगने में सबसे ज्यादा बंगाल (23.61 लाख), उत्तर प्रदेश (14.62 लाख), बिहार (12.32 लाख), दिल्ली (90 हजार) के लोग हैं।

 

 

Load More By upkibaat
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

पुलिस ने की ताबड़तोड़ छापेमारी, मौके पर प्रत्याशी के भतीजे को किया गिरफ्तार, 2 पेटी शराब की बरामद

बदायूं से  रिंकू शर्मा की रिपोर्ट त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर थाना पुलिस अभियान चलाकर …